Friday, November 21, 2008

सरहद पार से आया आवारा "माहिया"




आज आवाज़ पर सरहद पार से कुछ मेहमाँ आए हैं जो लाये हमारे संगीत प्रेमियों के लिए एक अनूठा तोहफा. संगीत का भी प्रेम की तरह कोई कोई मजहब नही होता. इसे आप सरहदों में बाँट नही सकते. भुगौलिक नज़रिए से भारत -पाकिस्तान आज दो अलग अलग मुल्क सही पर संगीत प्रेमियों के लिए इन जमीं पर खिंछी रेखाओं का कोई महत्त्व नही. संगीत की लम्बी परम्परा में आज एक और नए पाकिस्तानी बैंड का नाम जुड़ रहा है - आवारा. आवाज़ गर्व के साथ आज इस संगीत समूह को विश्वपटल पर पेश कर रहा है इनके सबसे पहले गीत "माहिया" के साथ.

"माहिया" एक सॉफ्ट रॉक गीत है, जिसे गाया है मोहम्मद वलीद मुस्तफा ने जो इस बैंड के रिदम गिटारिस्ट और इस गीत के गीतकार भी हैं. साथ में हैं लीड गिटारिस्ट अफान कुरैशी और drummer वकास कादिर बालूच. सुनते हैं ये जोरदार गीत जिसने दिया आवाज़ को एक और ऐतिहासिक दिन. हम उम्मीद करेंगे कि हमारे सुधी श्रोता इस ताज़ा गीत को भरपूर प्यार देंगे. हो सकता है कि आपका प्रोत्साहन /मार्गदर्शन, "आवारा" बैंड की कमियाबी के लिए मील के पत्थर का काम करे.



AWARA THE BAND:


MUHAMMAD WALEED MUSTAFA:Lead vocalist,Rhythm guitarist,Lyrics writer
AFFAN QURESHI:Lead guitarist,back vocalist
WAQAS QADIR BALOCH:Drummer,basses
Band was formed in 2007 at Islamabad (Pakistan).All the band members started their music career in the age of 15.AWARA releasing their debut song MAHIYA in association with "Awaaz" (India's only music community site dedicated to promote original talents). So for the first time from Pakistan here comes 'AWARA'- the band, with their debut song "mahiya". Hear it and share your thoughts about this brand new offering from Hind Yugm.



Lyrics -

baton mein tum ho khayalo mein tum
subho mein meri shamo mein tum
ji na paoon tere bin mein sanam
tum hi khushi tum hi ho ghum

aye khuda kya dard diya
chaha jisay woh laapata

mahiya maHiYa tu hai kahan
mahiya mahiya tu hai kahan

ankh mein pani hai sansein hain thum
jan jati hai niklay hai dum
roya hai yeh dil kahan gaey tum
maan bhi jao satao na tum

o sathiya yeh kya kiya
tor kar dil chalay kahan

mahiya mahiya a bhi ja
mahiya mahiya a bhi ja

jahan hogi tum mujhko pao gi tum
asani say na bhul pao gi tum
meri ho tum bas meri ho tum
zindagi kuch nahi bin teray sanam
maan lay janejan
pyar sirf tujh say kiya

mahiya mahiya sun lay sada
mahiya mahiya sun lay sada

दूसरे सत्र के २१ वें गीत का विश्वव्यापी उदघाटन आज

SONG # 21, SEASON # 02, "MAHIYA" OPENED ON AWAAZ ON 21-11-2008.
Music @ Hind Yugm, Where music is a passion




फेसबुक-श्रोता यहाँ टिप्पणी करें
अन्य पाठक नीचे के लिंक से टिप्पणी करें-

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

14 श्रोताओं का कहना है :

तपन शर्मा का कहना है कि -

सबसे पहले तो पाकिस्तान के दोस्तों का हिन्दयुग्म पर स्वागत। पाकिस्तान के गायकों ने जिस तरह से हिन्दुस्तान में अपनी पहचान बनाई है उससे आप लोगों से भी बहुत उम्मीदें बँध गई हैं।
मैंने गाना सुना...बोल व संगीत अच्छे हैं। गाने में आवाज़ थोड़ी सी और साफ होती तो और भी अच्छा लगता...
पर ओवरऑल बहुत धमाकेदार गाना... कानों को अच्छा लगा...
आपसे और भी गानों की उम्मीद करेंगे हम....

मनुज मेहता का कहना है कि -

पकिस्तान से आए मेरे भाइयों का स्वागत है मेरे हिंद युग्म पर. इस गीत को सुनकर ऐसा लगा की मेरे जिगर को कुछ राहत मिल गई. सरहद पार से आती हुई खुशबू साफ़ महसूस हुई है.

मेरी एक और इल्तेज़ा है इनसे की एक पंजाबी गीत भी हो जाए जो वहां के पंजाब की मिट्टी की सौंधी सौंधी खुशबू लिए हो.

सही तो कहा है संगीत को हम सरहदों में बाँट नही सकते न ही खुशबू और हवा को. भुगौलिक नज़रिए से भारत -पाकिस्तान आज दो अलग अलग मुल्क सही पर संगीत प्रेमियों के लिए इन जमीं पर खिंछी रेखाओं का कोई महत्त्व नही.

सजीव सारथी का कहना है कि -

welcome "awara". what a song, the opening is superb, lead guitarist played his role fantastically, the voice an singing of waleed is very passionate indeed, band like junoon and fuzon have set very high standard in india so u guys have to match up them....all the very best keep rocking....a musical hug to all of u guys

Rishi का कहना है कि -

Nice to see yugm crossing the borders. Very good attempt, I esply liked the voice. Congrats to the whole team!

Rishi

Anonymous का कहना है कि -

6 out of ten... be frankly...

- manish

Anonymous का कहना है कि -

WelldOne yaar!
That was really a niCe effOrt, Keep it Up......
IcbIanZ !!

Farhan Khalid

Anonymous का कहना है कि -

broo u roxxx

Anonymous का कहना है कि -

Cool song. nice voice. Needs little bit more of rhythm guitaring, which is not audible enough. only the arpeggios are clear. even other wise it is a good attempt. and yes i forgot. WELCOME TO HINDI YUGM. The licks were fine. Countering with chords with a keyboard would have given the song a different dimension. Phir bhi lajawab. Work hard.

Adios.

J.M.SOREN
KOCHIN KERALA (INDIA)

Anonymous का कहना है कि -

Cool to see a new opening. Congrats to this platform and the new guests. Well, I feel that more experiments are required to increase the taste of the song. From the start to end, rhythm almost seems to be same. The voice quality is good but I am getting the feeling of Atif Aslam style. Dudes song is good but unfortunately its goodness is buried somewhere. This song is not calling me again and again. I think your team has the potential to make this song more lovable. Just try to twist a little bit more.

Good start and a very good luck,

Cheers,
Prabhat

Anonymous का कहना है कि -

really an excellent song all the members did great

shivani का कहना है कि -

ये जानकार अच्छा लगा की हमारे पडोसी देश भी हिंद युग्म पसंद करते हैं हिंद युग्म में उनका स्वागत है गीत और संगीत अच्छा है परन्तु आवाज़ कुछ दबी हुई लगी !यदि गायक की आवाज़ संगीत से उठ कर आती तो ये गीत और भी बेहतर होता !आपके इस गीत का स्वागत है ,भविष्य में आपसे गीतों का और नजराना चाहती हूँ !शुक्रिया !

Anonymous का कहना है कि -

i really like da song because there r not much effects used in the song like atif aslam n jal uses.vocalz r excellent n filled with emotions
AWARA u ROXX!!!!!!!

CHEERS!
ASHOK

omer kabir (irtiqa band ) का कहना है कि -

the baloch is a cool drummer he really roxxx .

saqib majeed का कहना है कि -

very good drummer waqas

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

संग्रहालय

25 नई सुरांगिनियाँ

ओल्ड इज़ गोल्ड शृंखला

महफ़िल-ए-ग़ज़लः नई शृंखला की शुरूआत

भेंट-मुलाक़ात-Interviews

संडे स्पेशल

ताजा कहानी-पॉडकास्ट

ताज़ा पॉडकास्ट कवि सम्मेलन