Wednesday, May 28, 2008

तुषार जोशी की आवाज़, मनीष वंदेमातरम् के शब्द



हिन्द-युग्म पर पॉडकास्टिंग की शुरूआत १५ फरवरी २००७ को तुषार जोशी ने अपने पॉडकास्ट ब्लॉग Audio Experiments पर मनीष वंदेमातरम् की कविता 'आवोगी ना' से की थी। इस पॉडकास्ट को ३०० से अधिक लोगों ने डाऊनलोड किया। हमने सोचा कि हिन्द-युग्म के पॉडकास्ट के स्थाई पेज़ 'आवाज़' पर इधर-उधर बिखरे पड़े पॉडकास्ट को लाकर संग्रकित करना उचित होगा ताकि श्रोताओं को सारी सामग्री एक जगह मिल जाय।

सुनिए मनीष की कविता 'आवोगी ना' का पॉडकास्ट


तुषार जी की ही आवाज़ में मनीष की दो अन्य कविताएँ सुनें-

चाहता हूँ मैं


सनीचरी



हिन्द-युग्म के ढेरों पॉडकास्ट यहाँ उपलब्ध हैं।

फेसबुक-श्रोता यहाँ टिप्पणी करें
अन्य पाठक नीचे के लिंक से टिप्पणी करें-

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

श्रोता का कहना है :

pooja anil का कहना है कि -

मनीष वंदेमातरम की कविताएँ हिंद युग्म के संग्रहालय पर पढी थी , आज कवि तुषार जोशी जी के द्वारा सुनने पर फ़िर से जीवंत हो गयी , आवाज़ पर ये कविताएँ सुनवाने के लिए हिंद युग्म धन्यवाद का पात्र है .

^^पूजा अनिल

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

संग्रहालय

25 नई सुरांगिनियाँ

ओल्ड इज़ गोल्ड शृंखला

महफ़िल-ए-ग़ज़लः नई शृंखला की शुरूआत

भेंट-मुलाक़ात-Interviews

संडे स्पेशल

ताजा कहानी-पॉडकास्ट

ताज़ा पॉडकास्ट कवि सम्मेलन