Saturday, May 7, 2011

अनुराग शर्मा की कहानी "खून दो"



'सुनो कहानी' इस स्तम्भ के अंतर्गत हम आपको सुनवा रहे हैं प्रसिद्ध कहानियाँ। पिछले सप्ताह आपने अल्ताफ़ फ़ातिमा की कहानी "गैर मुल्की लडकी" का पॉडकास्ट प्रीति सागर की आवाज़ में सुना था। आज हम आपकी सेवा में प्रस्तुत कर रहे हैं अनुराग शर्मा की एक कहानी "खून दो", जिसको स्वर दिया है अनुराग शर्मा ने। कहानी "खून दो" का कुल प्रसारण समय 8 मिनट 51 सेकंड है। सुनें और बतायें कि हम अपने इस प्रयास में कितना सफल हुए हैं।

इस कथा का टेक्स्ट बर्ग वार्ता ब्लॉग पर उपलब्ध है।

यदि आप भी अपनी मनपसंद कहानियों, उपन्यासों, नाटकों, धारावाहिको, प्रहसनों, झलकियों, एकांकियों, लघुकथाओं को अपनी आवाज़ देना चाहते हैं हमसे संपर्क करें। अधिक जानकारी के लिए कृपया यहाँ देखें।

कहानी कहानी होती है, उसमें लेखक की आत्मकथा ढूँढना ज्यादती है।
~ अनुराग शर्मा

हर शनिवार को आवाज़ पर सुनें एक नयी कहानी
"ऐसा क्या करुँ कि दान भी हो जाए और अंटी भी ढीली न हो?"
(अनुराग शर्मा की "खून दो" से एक अंश)


नीचे के प्लेयर से सुनें.
(प्लेयर पर एक बार क्लिक करें, कंट्रोल सक्रिय करें फ़िर 'प्ले' पर क्लिक करें।)

यदि आप इस पॉडकास्ट को नहीं सुन पा रहे हैं तो नीचे दिये गये लिंक से डाऊनलोड कर लें:
VBR MP3
#128th Story, Khoon Do: Anurag Sharma/Hindi Audio Book/2011/10. Voice: Anurag Sharma

फेसबुक-श्रोता यहाँ टिप्पणी करें
अन्य पाठक नीचे के लिंक से टिप्पणी करें-

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

4 श्रोताओं का कहना है :

Sajeev का कहना है कि -

दूध नाथ सिंह बने मिल्की सिंह हा हा हा वाह बढ़िया है

Amrendra Nath Tripathi का कहना है कि -

कहानी और व्यू-प्वाइंट दोनों सुंदर! बीच बीच में ह्यूमर का सुन्दर इस्तेमाल है। आभार..!

Smart Indian का कहना है कि -

धन्यवाद!

Tamil का कहना है कि -

Nice post For Sharing to all and me. I Will also share with my
friends. Great Content thanks a lot.

https://www.biofact.in/2020/08/positive-thinking-short-stories-in-tamil.html

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

संग्रहालय

25 नई सुरांगिनियाँ

ओल्ड इज़ गोल्ड शृंखला

महफ़िल-ए-ग़ज़लः नई शृंखला की शुरूआत

भेंट-मुलाक़ात-Interviews

संडे स्पेशल

ताजा कहानी-पॉडकास्ट

ताज़ा पॉडकास्ट कवि सम्मेलन