Thursday, May 1, 2008

इस तरह से बजा 'पहला सुर' (Story of Pahala Sur)



मार्च 2008 के अंत में आकाशवाणी के वरिष्ठ उद्घोषक प्रदीप शर्मा ने हिन्द-युग्म के पहले स्वरबद्ध एल्बम 'पहला सुर' के इंचार्ज़ सजीव सारथी से बातचीत की, जिसे दिल्ली विश्वविद्यालय के सामुदायिक रेडियो DU-FM पर प्रसारित भी किया गया। हमें उस प्रोग्राम की रिकार्डिंग प्राप्त हो गई तो हमने सोचा कि क्यों ने इंटरनेट के श्रोताओं को भी इसे सुनवाया जाय, ताकि इंटरनेट के श्रोता भी जान पायें कि 'पहला सुर' के पीछे की कहानी क्या है? पूरा कार्यक्रम 52:30 मिनट का है, अतः धैर्य से सुनें और ज़रूर बतायें कि यह कार्यक्रम कैसा लगा?

झटपट सुनने के लिए नीचे ले प्लेयर से सुनें.

(प्लेयर पर एक बार क्लिक करें, कंट्रोल सक्रिय करें फ़िर 'प्ले' पर क्लिक करें।)




यदि आप फिर भी इस पॉडकास्ट को नहीं सुन पा रहे हैं तो यहाँ से डाउनलोड कर लें।

Interview of Sajeev Sarathie on 90.4 DU-FM

फेसबुक-श्रोता यहाँ टिप्पणी करें
अन्य पाठक नीचे के लिंक से टिप्पणी करें-

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

7 श्रोताओं का कहना है :

archana का कहना है कि -

Sajeev jee ka interview bahut pasand aaya .........
kyuki isi bahane unkee awaz sun ne ko mili.....aur unke baare mai kuch or baate pata lagee...kee wo kitne zamin se jude huye insaan hai....kis tarah se apne hosle ke saath wo jindagee ko jee rahe hai ....aur kese wo naye kaamon ko anjaam de rahe hai....and helping so many budding poets to come out nd express them on this site.....aur naye kaviyon ko hosla dene kee koshish....unkee albam pehla sur ke vishay mai thosa aur jan ne ko mila aur kuch or songs bhi sune jo dil ko choo gaye bas..........aur isi tarah sab log achchi kavitaye yaha bhejenge nd unko fir geeton ka roop diya jaye ......kyuki sab tarah bas purane logo moka milta hai ........wahee puranee awaze ......to isliye ab yaha ham naye kavi,naye geetkaar,sangeetkaar ,kahaneekaar,lekhak...sabko peda karenge :)

All the Best Sajeev Jee :)

niran का कहना है कि -

i am so happy that it came in the radio thank you sajeev bhai we al appreciate you for the effort that you are taking thank you once again

Subhojit का कहना है कि -

I like Sanjeev ji very much. He gave me sumthing which I enjoy to do. I m very thankful to him. He had helped to grow my knowledge. Wht to say abt compositions...
They r very good..But I will make better n the best toooooooooo

तपन शर्मा का कहना है कि -

अब जा कर सुना आपका इंटरव्यू सजीव जी। अच्छा लगा। पहला सुर के अगले अंक की प्रतीक्षा रहेगी।

अवनीश एस तिवारी का कहना है कि -

मैं हिंद युग्म को बधाई देता हूँ |

और सजीव को तो, मेल पर ही बात करूँगा |
-- अवनीश तिवारी

pooja anil का कहना है कि -

हिंद युग्म और सजीव सारथी जी को बहुत बहुत बधाई
नयी प्रतिभाओं को मौका देने के लिए सजीव जी का खास तौर पर धन्यवाद

^^पूजा अनिल

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन का कहना है कि -

बहुत अच्छा लगा। हिंद युग्म और सजीव सारथी जी को बहुत बधाई!

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

संग्रहालय

25 नई सुरांगिनियाँ

ओल्ड इज़ गोल्ड शृंखला

महफ़िल-ए-ग़ज़लः नई शृंखला की शुरूआत

भेंट-मुलाक़ात-Interviews

संडे स्पेशल

ताजा कहानी-पॉडकास्ट

ताज़ा पॉडकास्ट कवि सम्मेलन